सिविल अस्पताल की ओपीडी में मरीजों कींसंख्या 400 तक पहुंच गई

लेटेस्ट खबरों को अपने Whatsapp पर पाने के लिए सबस्क्राइब करें

ग्वालियर-

सिविल अस्पताल की ओपीडी में दिन प्रतिदिन वायरल मरीजों कीसंख्या बढ़ती जा रही है, इस कारण ओपीडी में आए मरीजों की संख्या  शनिवार को 400 तक पहुंच गई। आम दिनों में यह 80 से 150 के
बीच रहती है, लेकिन इन दिनों वायरल बीमारियों का प्रकोप बढ़ गया है।जिससे ओपीडी में मरीजों की संया भी बढ़ रही है। फिलहालडॉक्टरों ने लोगों को वायरल फीवर से बचने के सुझाव दिए हैं।जब-जब मौसम के तेबर बदलते हैं तब-तब बीमारियां बढ़ती हैं।
आज-कल मौसम में सुबह-दोपहर और शाम को परिवर्तन हो रहा है।
बीमारियां बढऩे का एक बड़ा कारण यही है। बीमार होकर इलाज करानेसे बेहतर बचाव के उपाय अपनाना है। लेकिन घंटे दर घंटे मौसम मेंबदलाव से ऐसा संभव नहीं हो पा रहा है। अब जब बारिश का मौसम
चल रहा है तब बीमारियां और अधिक बढऩे लगी हैं। अब तक तीखीधूप और बारिश से ही बचाव करना पड़ रहा था अब खान- पान कोलेकर भी सावधानी बरतना जरूरी हो गया है अन्यथा बीमारियां घेर रहीहैं। पीडि़तों में अधिकतर लोग वायरल की चपेट में हैं। इसमें बुखार,जुकाम, खांसी परेशान किए हुए है। बारिश होने के बाद उल्टी- दस्त सेभी लोग ग्रसित होने लगे हैं। इस कारण शनिवार को सिविल अस्पतालकी ओपीडी में मरीजों की संया 400 को पार कर गई। इस दौरानअस्पताल में काफी गहमा-गहमी भी देखी गई।मानसून में पाचन क्रिया होती है प्रभावित
मेडिकल ऑफीसर डॉ. डीआर सगर ने बताया कि बारिश के मौसम में शरीर
में वात यानी वायु की वृद्धि होती है इसलिए हल्के एवं शीघ्र पचने वाला भोजनसामग्री का ही सेवन करना चाहिए। इस मौसम में वातावरण में नमी होने केकारण प्यास कम लगती है लेकिन पानी फिर भी पीते रहना चाहिए। फल और
सलाद सामग्री को धोकर काटकर ही खाना चाहिए। योंकि इनके अंदर कीड़ेहोने की आशंका रहती है।