सोनभद्र-: सुअरसोत चौकी की पुलिस ने पशुओं से भरी एक ट्रक सहित 3 पशु तस्करो को किया गिरफ्तार

323
लेटेस्ट खबरों को अपने Whatsapp पर पाने के लिए सबस्क्राइब करें

दिनेश पाण्डेय/मुख्यालय

सोनभद्र माची थाने की पुलिस चौकी सुअरसोत पर सुबह लगभग आठ बजे पुलिस के द्वारा अट्ठारह पशुओं से भरी बारह चक्का ट्रक को पकड़ा गया है।बतादें कि जनपद के थाना करमा रावर्टसगंज पन्नूगंज रायपुर मांची के क्षेत्रों में पशुतस्करी का धंधा पहले तो रात के अंधेरों में लुक छुप कर होती रही है लेकिन इधर एक दो माह से इन क्षेत्रों में पशुतस्करी का धंधा खुलेआम दिन दहाङे हो रहा है। इसकी बानगी गुरूवार देखने को मिला की गुरूवार को पशुओं से भरा एक ट्रक मुखबिर की सूचना पर सुअरसोत चौकी के गेट पर पुलिस ने ट्रक को रोकवाकर चेक किया तो ट्रक में 18 बैल बेतरतीब तरीके से भरे गये थे ।और ट्रक में तीन पशुतस्कर पवनकुमार नि.काली पट्टी कैंट प्रयागराज. अवधेश कुमार यादव बसंतपुर फतेहपुर. नूरमूहम्मद अमांव खुर्जा फतेहपुर सवार थे उनको पुलिस ने पकङकर पुलिस पूछताछ कर रही है।वैसे तो यह धंधा काफी अरसे से चल रहा है लेकिनदिन दहाड़े फर्राटा भरती हुई गाड़ियां निकल रही हैं। मुख्यमंत्री भले ही बड़े बड़े वादे करते हो लेकिन गोवंश पर नही लगा पा रहे शासन प्रशासन लगाम वही खुलेआम पशु तस्करी हो रही है इसका जिम्मेदार कौन है।किसके इशारे पर धंधा फलफूल रहा है।

कौशांबी से चल कर सोनभद्र गाडिय़ां आ रही हैं कोई रोकने वाला नहीं है आखिर क्यों?पुरे सिंडिकेट का पर्दाफाश क्यों नहीं हो रहा है?कहीं न कहीं पुलिस संलिप्तता जरूर है।क्योंकि रायपुर थाना क्षेत्र में जब कोई गाड़ी पकड़ी जाती हैं या तो खराब होने पर या ग्रामीणों के द्वारा पकड़ी गयी हैं।पुलिस मूकदर्शक बनी हुई है।प्रत्येक दिन दर्जनों ट्रक. मीनी ट्रक.पीकप पशुओं को लेकर बिहार जाती हैं।बगैर रायपुर थाना क्षेत्र के बिहार जा ही नहीं सकती ।इसके बिरोध मे वैनी खलियारी के ग्रामीणों के द्वारा प्रदर्शन भी कर चुके हैं लेकिन किसी ने ध्यान नहीं दिया।पशु तस्करी कब रूकेगी भविष्य के गर्त में है।