22 साल बाद राष्ट्रमण्डल खेलों में फिर शामिल हुआ क्रिकेट

लेटेस्ट खबरों को अपने Whatsapp पर पाने के लिए सबस्क्राइब करें

राष्ट्रमण्डल खेलों में क्रिकेट को शामिल कर लिया गया है। प्रशंसकों के लिए एक खुशी की बात है। राष्ट्रमण्डल और अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद ने बर्मिंघम में 28 जुलाई से 8 अगस्त तक होने वाले खेलों में क्रिकेट को भी शामिल कर लिया है। साल 2022 में महिलाओं की आठ टीमें राष्ट्रमण्डल खेलों में भाग लेंगी। इसके लिए सीजीएफ ने प्रवेश प्रक्रिया घोषित कर दी है। इससे पहले 1998 में पहली बार कुआलालम्पुर में पुरुषों की क्रिकेट टीमों ने भाग लिया था। टूर्नामैंट में आठ टीमें हिस्सा लेंगी क्योंकि खेल इंग्लैंड में होने हैं, ऐसे में मेजबान टीम को स्वयं प्रवेश मिल गया है। सिर्फ एक जगह के लिए क्वालिफायर करवाएंगे जाएंगे जिसकी समय सीमा 31 जनवरी 2022 होगी। सभी मैच एजबस्टन के मैदान पर खेले जाएंगे। राष्ट्रमंडल खेल महासंघ के अध्यक्ष डेम लुईस मार्टिन ने कहा कि हम बर्मिंघम 2022 राष्ट्रमंडल खेलों में महिलाओं की टी-20 क्रिकेट की शुरुआत से बिल्कुल खुश हैं। क्रिकेट हमेशा से राष्ट्रमण्डल देशों के सबसे लोकप्रिय खेलों में से एक रहा है और कुआलालंपुर 1998 में पुरुषों की प्रतियोगिता के बाद पहली बार हमारे खेलों में इसे वापस लाना इतना खास है। तब रिकी पोंटिंग, जैक्स कैलिस सहित महान खिलाड़ी सचिन तेंदुलकर इस शो में शामिल थे। अब महिलाओं की बारी है और मैं हीथर नाइट, हरमनप्रीत कौर और मेग लैनिंग जैसे सितारों को देखने के लिए और इंतजार नहीं कर सकता। मैं राष्ट्रमंडल खेल महासंघ को उनके समर्थन और इसे संभव बनाने के लिए धन्यवाद देता हूं। शीर्ष छह टीमों को सीधे प्रवेश मिलेगा  आईसीसी की रैंकिंग में शीर्ष छह स्थानों पर बरकरार महिला टीमें 2022 राष्ट्रमंडल खेलों की टी20 क्रिकेट प्रतियोगिता के लिए सीधे क्वालिफाई करेंगी। इंग्लैंड के बर्मिंघम में 28 जुलाई से आठ अगस्त तक आयोजित होने वाले इन खेलों में पहली बार महिला क्रिकेट को भी शामिल किया गया है। इन खेलों के लिए आईसीसी और राष्ट्रमंडल खेल महासंघ (सीजीएफ) ने प्रवेश प्रक्रिया की जानकारी दी है। आईसीसी के मुताबिक, ”मेजबान इंग्लैंड के अलावा, अगले साल एक अप्रैल तक आईसीसी महिला टी20 अंतरराष्ट्रीय रैंकिंग में शीर्ष की छह अन्य टीमें भी सीधे एजबस्टन में होने वाले आठ-टीमों के टूर्नामेंट के लिए क्वालिफाई करेंगी।” यह दूसरी बार होगा जब राष्ट्रमंडल खेलों में क्रिकेट को शामिल किया जा रहा है।

 

 

इससे पहले साल 1998 में कुआलालंपुर में आयोजित इन खेलों में पुरूष क्रिकेट टीम को शामिल किया गया था। भारतीय टीम आईसीसी की वर्तमान रैंकिंग में इंग्लैंड के बाद तीसरे स्थान पर है। इस टूर्नामेंट की आठवीं टीम का फैसला राष्ट्रमंडल खेलों के क्वालिफायर के हिसाब से तय होगा। आईसीसी के मुख्य कार्यकारी मनु साहनी ने कहा, ”राष्ट्रमंडल खेलों में क्रिकेट हमारे लिए शानदार अवसर है कि हम विश्व स्तर पर महिलाओं के खेल को आगे बढ़ा सकें।” उन्होंने कहा, ”हम महिला क्रिकेट की लोकप्रियता में आयी तेजी और पिछले कुछ वर्षों में हमने जो गति हासिल की है उसे बनाये रखने के लिए प्रतिबद्ध हैं। मैं राष्ट्रमंडल खेल महासंघ को उनके समर्थन और इसे संभव बनाने के लिए धन्यवाद देता हूं।” साथ ही कहा कि कैरेबियाई देशों के खिलाड़ी अपने-अपने राष्ट्रों का प्रतिनिधित्व करेंगे ऐसे में क्वालिफाइंग टूर्नामेंट से फैसला होगा कि वेस्टइंडीज की जगह किस देश को टूर्नामेंट में मौका मिलेगा। राष्ट्रमंडल खेल महासंघ की अध्यक्ष डेम लुईस मार्टिन ने कहा, ”हम बर्मिंघम 2022 राष्ट्रमंडल खेलों में महिलाओं के टी20 क्रिकेट की शुरुआत से बेहद खुश हैं। क्रिकेट हमेशा से राष्ट्रमंडल देशों के सबसे लोकप्रिय खेलों में से एक रहा है और कुआलालंपुर में पुरुषों की प्रतियोगिता के बाद से पहली बार इसकी वापसी से हम खुश हैं।