देश अपने कार्बन फूटप्रिंट को 30-35 प्रतिशत तक कम करने के लक्ष्य की ओर बढ़ रहा: नरेंद्र मोदी

लेटेस्ट खबरों को अपने Whatsapp पर पाने के लिए सबस्क्राइब करें

नई दिल्ली प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गांधीनगर स्थित पंडित दीनदयाल पेट्रोलियम विश्वविद्यालय के 8वें दीक्षांत समारोह को संबोधित कर कहा, आज देश अपने कार्बन फूटप्रिंट को 30-35 प्रतिशत तक कम करने का लक्ष्य लेकर आगे बढ़ रहा है। प्रयास है कि इस दशक में अपनी ऊर्जा जरूरतों में नेचुरल गैस की हिस्सेदारी को हम चार गुणा तक बढाएं।
पीएम मोदी ने छात्र-छात्राओं को बधाई देकर कहा कि संस्थान से पास होने वाले छात्र देश की नई ताकत बने। पीएम मोदी ने कहा, एक समय ऐसा भी था जब लोग सवाल पूछते थे कि इस तरह की यूनिवर्सिटी का क्या भविष्य है। लेकिन यहां से निकलने वाले छात्रों और यूनिवर्सिटी में पढ़ाने वाले प्रोफेसर्स ने उन सभी सवालों का जवाब दे दिया है। पीएम मोदी ने कहा, ‘आज आप उस समय में इंडस्ट्री में कदम रख रहे हैं

 

जब महामारी के कारण पूरी दुनिया के ऊर्जा के क्षेत्र में भी बड़े बदलाव हो रहे हैं। मोदी ने कहा, उस समय में ग्रेजुएट होना जब दुनिया इतने बड़े संकट से जूझ रही है, ये कोई आसान बात नहीं है। लेकिन आपकी क्षमताएं इन चुनौतियों से कहीं ज्यादा बड़ी हैं। परेशानी क्या हैं, इससे ज्यादा महत्वपूर्ण ये है कि आपकी जरूरत क्या है, आपकी पसंद क्या है और आपका प्लान क्या है? ऐसा नहीं है कि सफल व्यक्तियों के पास समस्याएं नहीं होतीं, लेकिन जो चुनौतियों को स्वीकार करता है उनका मुकाबला करता है, उन्हें हराता है, समस्याओं का समाधान करता है, वहां सफल होता है।