25 वर्षीय युवक का पंखे से लटकता मिला शव मचा कोहराम कांशीराम आवास

लेटेस्ट खबरों को अपने Whatsapp पर पाने के लिए सबस्क्राइब करें

(दिनेश कुमार पाण्डेय)

सोनभद्र:- राबर्ट्सगंज कोतवाली क्षेत्र के कांशीराम शहरी आवासीय परिसर के एक आवास में शनिवार की सुबह पंखे से रस्सी के सहारे राहुल राज का लटकता शव मिलने से सनसनी फैल गई। पुलिस को घटना स्थल से सुसाइट नोेट मिला है। जिसमें मृतक ने जान देने की वजह रुपये न देने व बेइज्जती करने की बात लिखी है। पुलिस मामले की गंभीरता से जांच कर रही है।

कांशीराम आवास में राहुल राज (25) पुत्र राजेंद्र अपनी मां के साथ रहता था। वह राबर्ट्सगंज के एक चर्चित हॉस्पिटल में कर्मचारी था। फंखे से रस्सी के सहारे शव लटकता मिलने के बाद उसे दरवाजा तोड़कर उतारा गया। पुलिस की प्रारंभिक जांच में तीन पन्ने का उसके पास से सुुसाइट नोट मिला है।

 

जिसमें उसने लिखा है कि वह निजी हॉस्पिटल में ओटी टेक्निकल पद पर कार्यरत था। उसने इस पत्र में घोरावल कोतवाली क्षेत्र के शिल्पी गांव निवासी शकलदीप का नाम जिक्र किया है। कहना है कि उक्त व्यक्ति ने उससे 18 अगस्त 2019 को 80 हजार रुपये नकद लिया था। वह एक-एक पैसे जोड़कर उक्त व्यक्ति को कर्ज दिया था। यह बात न तो उसकी मां को मालूम थी और न ही कर्ज लेने वाले व्यक्ति की पत्नी को। कर्ज लेने वाले व्यक्ति की मार्च 2020 में सरकारी नौकरी लग गई। इसके बाद वह उससे कर्ज के रूप में दिए गए रुपये की मांग करने लगा तो वह हीलाहवाली करने लगा। इस दौरान वह एक वीडियो वायरल करने की धमकी देकर ब्लैकमेल करने लगा। जिसकी वजह से वह काफी डिप्रेशन में था। उक्त व्यक्ति द्वारा एक निजी हॉस्पिटल के चिकित्सक व महिला चिकित्सक के सामने भी उसकी बेइजज्ती किया। जिससे वह काफी परेशान था और वह अब जीना नहीं चाहता।  मृतक ने पत्र में लिखा हैं कि हमारे मरने का जिमेदार शकलदीप हैं जो हमारे घर वालो को भी जान माल का खतरा है।