उप्र मप्र के कोयला खदानों से चोरी का कोयला बृहत पैमाने पर पहुंचने लगी चंदासी मंडी।

979
लेटेस्ट खबरों को अपने Whatsapp पर पाने के लिए सबस्क्राइब करें

बिना ट्रांजिट कटाये अनपरा बंन बैरियर से कराया जा रहा है पासबन विभाग कि भूमिका संदेह के धरे में।

(फणीन्द्र कुमार सिन्हा)

सिंगरौली/सोनभद्र।
सोनभद्र व सिंगरौली के संयुक्त कोयला खदान से आए दिन हो रहे कोयला चोरी से एनसीएल के सुरक्षा पर सवालिया निशान खड़ा होते जा रहा है। वन विभाग एवं सरकारी मुलाजिमों के सरपरस्ती में एक वार फिर से खदानों से कोयला पार होने लगा है जिससे सरकार को करोड़ों का नुकसान हो रहा है बताते हैं वन विभाग के बैरियर से कोयला चोरी की गाड़ी निकलने के बाद यह गाड़ी चंदासी मंडी पहुंचने तक नंबर एक में तब्दील हो जाती है।अनपरा रेंज से बिना ट्रांजिट के निकले एक ट्रक कोयला वन रेंज क्षेत्र के गाढ़ा बैरियर के समीप शनिवार को बीती रात पकड़े गए कोयले के ट्रक पर ट्रांजिट परमिट ना होने के अभाव में पिपरी रेंजर ने ट्रक को सीज कर दिया इस दौरान पहुंचे पिपरी निवासी एक युवक पर सरकारी कार्य में व्यवधान डालने व रेंजर के चालक को भद्दी गाली देने का आरोप लगाते हुए रेंजर ने थाने में पत्र दिया है। पिपरी थाने पर दिए शिकायती पत्र में रेंजर वी के पांडेय ने लिखा है कि बीती रात जब वह गाढ़ा बैरियर के समीप वाहनों की चेकिंग कर रहे थे तो अनपरा की ओर से कोयला लेकर आ रहे ट्रक पर ट्रांजिट परमिट न होने की दशा में वाहन को रेंज परिसर में लाकर खड़ा कर दिया गया। इस दौरान पिपरी निवासी दिलीप सिंह नामक व्यक्ति रेंज परिसर में आया और वाहन को तत्काल छोड़ने के लिए दबाव बनाने लगा इस बीच रेंजर व सरकारी चालक ने जब उसे समझाने की कोशिश की तो वह उनसे भी उलझ गया और सरकारी चालक को भद्दी भद्दी गाली देने लगा। रेंजर का कहना है कि उस वक्त युवक नशे में भी था उनका आरोप है कि उक्त युवक अवैध रूप से संचालित हो रही कोयले की गाड़ियों को संचालित करता है इस संबंध में रेंजर वी के पांडेय ने थाने पर तहरीर देकर आरोपी पर मुकदमा दर्ज करने की मांग की है ट्रक किसी जासवाल की बताई जा रही है पुलिस एवं बन बिभाग जांच में जुटी है इस संदर्भ में डीएफओ रेन्नुकूट एवं पुलिस क्षेत्राधिकारी पिपरी से जानकारी ली गई।